200+ Maa Shayari | माँ शायरी | Shayari On Mother In Hindi

आसमान में भगवान है या नहीं यह तो हमें नहीं पता लेकिन धरती पर भगवान जरुर है और हम उसे ‘माँ’ कहते हैं। माँ भगवान का ही रूप है। माँ के लिए जितना लिखा जाये उतना कम है। कहते है ना ‘मैं माँ पर क्या लिखूं, माँ ने तो मुझे लिखा है!’ आज हम आपको Mother Shayari On Hindi की एक लम्बी लिस्ट देने वाले है। इस लिस्ट में 200+ MAA Shayari है। आप इन शायरी को अपने whatsapp या Facebook एकाउंट्स पर शेयर कर सकते है। 

तो चलिए आपको हम 200+ Maa Shayari लिस्ट से रूबरू करवाते है। यहाँ हम 2 Line whatsapp Maa Shayari और Full Maa Shayari In Hindi की एक बड़ी लिस्ट देने जा रहे है तो आर्टिकल को पूरा पढ़ें। जो शायरी अच्छी लगे उसे आप अपने लिए उपयोग में ले सकते है और कॉपी कर सकते हैं। 

200+ माँ शायरी | 200+ Maa Shayari in Hindi  

Maa Shayari IN Hindi की इस लिस्ट में आपको अच्छी और सबसे ज्यादा पसंद आने वाली माँ की शायरी देने वाले हैं। इस लिस्ट में आप अपने अनुसार किसी भी माँ की शायरी को सेलेक्ट कर सकते हैं। तो चलिए पढ़ते है 200+ MAA Shayari IN Hindi – 

  1. दवा जब असर ना करे तो वो नजरे उतरती है, वो माँ है जनाब हार कहा मानती है।।
  2. में केसे हार जाऊ तकलीफों के आगे,  मेरी तरक्की के आस में मेरी माँ बैठी है।।
  3. वक्त ने सिखाया है अकेला चलना,  वरना हम तो माँ के बिना एक कदम भी नहीं चल पाते थे।।
  4. मैने अपने लिए अपनी माँ से ज्यादा,  फिक्रमंद ओर किसी को नहीं देखा।।
  5. माँ आपसे मेरी ज़िन्दगी है आपसे मेरी हर खुशी है,  आप हो तो सब कुछ है आप नहीं तो कुछ नहीं।।
  6. में हार भी जाऊ तो माँ मुस्कुरा के गले लगाती है,  ना जाने इतनी मोहब्बत माँ कहा से लाती है।।
  7. जिसके होने से मैं खुद को मुक्कम्मल मानता हूँ, मेरे रब के बाद मैं बस अपनी माँ को जानता हूँ।
  8. खूबसूरती की इंतहा बेपनाह देखी, जब मैंने मुस्कुराती हुई माँ देखी।
  9. दिल तोड़ना कभी नहीं आया मुझे, प्यार करना जो सीखा है माँ से।
  10. जन्नत का हर लम्हा, दीदार किया था, गोद में उठाकर जब माँ ने प्यार किया था।
  11. कौन सी है वो चीज़ जो यहाँ नहीं मिलती, सब कुछ मिल जाता है पर माँ नहीं मिलती।
  12. तेरी डिब्बे की वो दो रोटिया कही बिकती नहीं माँ मेंहगे होटलों में आज भी भूख मिटती नहीं
  13. ठोकर न मार मुझे पत्थर नहीं हूँ मैं, हैरत से न देख मुझे मंज़र नहीं हूँ मैं, तेरी नज़रों में मेरी क़दर कुछ भी नहीं, मेरी माँ से पूछ उसके लिए क्या नहीं हूँ मैं।
  14. माँ तेरी याद सताती है मेरे पास आ जाओ, थक गया हूँ मुझे अपने आँचल मे सुलाओ, उंगलियाँ अपनी फेर कर बालो में मेरे, एक बार फिर से बचपन कि लोरियां सुनाओ।
  15. दिन की रौशनी ख्वाबो को बनाने मे गुजर गयी, रात की नींद बच्चे को सुलाने मे गुजर गयी, जिस मकान मे तेरे नाम की तख्ती भी नहीं है, सारी उम्र उस मकान को बनाने मे गुजर गयी।
  16. ऐ रात मुझे माँ की तरह गोद में ले ले आज, दिन भर की मशक़्क़त से बदन टूट रहा है।
  17. ये ऐसा क़र्ज़ है जो मैं अदा कर ही नहीं सकता, मैं जब तक घर न लौटूं, मेरी माँ सज़दे में रहती है।
  18. चलती फिरती आँखों से अज़ाँ देखी है, मैंने जन्नत तो नहीं देखी है माँ देखी है।
  19. पहले ये काम बड़े प्यार से माँ करती थी, अब हमें धूप जगाती है तो दुःख होता है।
  20. मुझे बस इस लिए अच्छी बहार लगती है, कि ये भी माँ की तरह ख़ुशगवार लगती है।

एक लाइन वाली माँ की शायरी | One Line Maa shayari In Hindi 

अगर आप One Line Maa Shayari खोज रहे है तो यहाँ आपको One Line Maa Hindi shayari पढने को मिलेगी। काफी रिसर्च के बाद हमने यहाँ पर शायरी की एक लम्बी लिस्ट जारी करी है। हमने माँ पर लिखी कुछ ऐसी बातों को यहाँ पर शामिल किया है जो आपको काफी पसंद आएगी। माँ पर लिखी यह शायरी आपको कैसी लगी हमें जरुर बताना One Line Maa Shayari In Hindi यह रही – 

  1. भेजे गए फ़रिश्ते हमारे बचाव को, जब हुआ हादसात माँ की दुआ से उलझ पड़े।
  2. मैंने कल शब चाहतों की सब किताबें फाड़ दीं, सिर्फ़ इक काग़ज़ पे लिक्खा लफ़्ज़—ए—माँ रहने दिया।
  3. माँ ! के आगे यूँ ही कभी खुल कर नहीं रोना, जहाँ बुनियाद हो, इतनी नमी अच्छी नहीं होती।
  4. मुझे कढ़े हुए तकिये की क्या ज़रूरत है, किसी का हाथ अभी मेरे सर के नीचे है। “मेरी माँ”
  5. बुज़ुर्गों का मेरे दिल से अभी तक डर नहीं जाता दोस्तो, कि जब तक जागती रहती है माँ मैं घर नहीं जाता।
  6. मेरे चेहरे पे ममता की फ़रावानी चमकती है, मैं बूढ़ा हो रहा हूँ फिर भी पेशानी चमकती है।
  7. आँखों से माँगने लगे पानी वज़ू का हम, काग़ज़ पे जब भी देख लिया माँ लिखा हुआ।
  8. हादसों की गर्द से… ख़ुद को बचाने के लिए, माँ हम अपने साथ बस तेरी दुआ ले जायेंगे।
  9. किसी को घर मिला हिस्से में या कोई दुकाँ आई मैं घर में सबसे छोटा था मेरे हिस्से में माँ आयी।
  10. ऐ अँधेरे! देख ले मुँह तेरा काला हो गया, माँ ने आँखें खोल दीं घर में उजाला हो गया।
  11. इस तरह मेरे गुनाहों को वो धो देती है, माँ बहुत ग़ुस्से में होती है तो रो देती है।
  12. मेरी ख़्वाहिश है कि मैं फिर से फ़रिश्ता हो जाऊँ, माँ से इस तरह लिपट जाऊँ कि बच्चा हो जाऊँ।
  13. ख़ुद को इस भीड़ में तन्हा नहीं होने देंगे, माँ ! तुझे हम अभी बूढ़ा नहीं होने देंगे।
  14. ए मुसीबत जरा सोच के आ मेरे करीब, कही मेरी माँ की दुआ तेरे लिए मुसीबत ना बन जाये।
  15. अभी ज़िन्दा है माँ मेरी मुझे कुछ भी नहीं होगा, मैं जब घर से निकलता हूँ दुआएं भी साथ चलती है।
  16. कुछ नहीं होगा तो आँचल में छुपा लेगी मुझे, माँ ! कभी सर पे खुली छत नहीं रहने देगी।
  17. दिन भर की मशक़्क़त से बदन चूर है लेकिन माँ ने मुझे देखा तो थकान भूल गयी अपनी।
  18. दुआएँ माँ की पहुँचाने को मीलों मील जाती हैं, कि जब परदेस जाने के लिए बेटा निकलता है।
  19. जब भी कोई खतरा मेरी जान पर आता है माँ का नाम ही जुबा पर आता है बिना कुछ कहे वो सब कुछ कह लेती है हमारी ख़ुशी के खातिर वह सब सह लेती है।
  20. खेत जाते वक्त कभी कांटा लगा था मेरे पैर में डॉक्टर से न निकला तो माँ ने ऑंसूओ से कांटा गला दिया

माँ की शायरी | Mother shayari In Hindi 

माँ शब्द ही काफी है लिखने के लिए, कहते है की अपने माँ-बाप को खुश रखो तो जिंदगी में किसी तरह की परेशानी नहीं होती है। मैं तो कहता हूँ जिनके माँ-बाप जिंदा है उनकी पूरी जिंदगी शुकून से गुजरती है। मैं यहाँ पर माँ की कुछ शायरी शेयर कर रहा हूँ। अच्छी लगे तो आगे भी शेयर करें। Maa Shayari In Hindi – 

  1. चलती फिरती आंखों से अजां देखी है,
    मैंने जन्नत तो नहीं देखी लेकिन मां देखी है।
  2. मुझे माफ़ कर मेरे या खुदा
    झुक कर करू तेरा सजदा
    तुझसे भी पहले माँ मेरे लिए
    ना कर कभी मुझे माँ से जुदा!
  3. जिसके होने से मैं खुद को मुक्कम्मल मानता हूँ,
    में खुदा से पहले मेरी माँ को जानता हूँ।
  4. मां वो सितारा है जिसकी गोद में जाने के लिए हर कोई तरसता है,
    जो मां को नहीं पूछते वो जिंदगी भर जन्नत को तरसता है।
  5. माँ की बूढी आंखों को अब कुछ दिखाई नहीं देता,
    लेकिन वर्षों बाद भी आंखों में लिखा हर एक अरमान पढ़ लिया।
  6. ना आसमां होता ना जमीं होती,
    अगर मां तुम ना होती।
  7. घर में धन, दौलत, हीरे, जवाहरात सब आए,
    लेकिन जब घर में मां आई तब खुशियां आई।
  8. मां तुम्हारे पास आता हूं तो सांसें भीग जाती है,
    मोहब्बत इतनी मिलती है की आंखें भीग जाती है।
  9. हर घड़ी दौलत कमाने में इस तरह मशरूफ रहा मैं,
    पास बैठी अनमोल मां को भूल गया मैं।
  10. मुसीबतों ने मुझे काले बादल की तरह घेर लिया,
    जब कोई राह नजर नहीं आई तो मां याद आई।
  11. दुआ है रब से वो शाम कभी ना आए,
    जब माँ दूर मुझसे हो जाए।
  12. जमाने ने इतने सितम दिए की रूह पर भी जख्म लग गया,
    मां ने सर पर हाथ रख दिया तो मरहम लग गया।
  13. किसी भी मुश्किल का अब किसी को हल नहीं मिलता,
    शायद अब घर से कोई मां के पैर छूकर नहीं निकलता।
  14. रूह के रिश्तो की यह गहराइयां तो देखिए,
    चोट लगती है हमें और दर्द मां को होता है।
  15. हम खुशियों में मां को भले ही भूल जाए,
    जब मुसीबत आ जाए तो याद आती है मां।
  16. खूबसूरती की इंतहा बेपनाह देखी…
    जब मैंने मुस्कराती हुई माँ देखी..
  17. सख्त राहों में भी आसान सफर लगता है,
    यह मेरी मां की दुआओं का असर लगता है।
  18. हालात बुरे थे मगर अमीर बना कर रखती थी,
    हम गरीब थे यह बस हमारी मां जानती थी।
  19. जब जब कागज पर लिखा मैंने मां का नाम,
    कलम अदब से बोल उठी हो गए चारों धाम।
  20. मां तेरे एहसास की खुशबू हमेशा ताजा रहती है,
    तेरी रहमत की बारिश से मुरादें भीग जाती है।

50+ सबसे ज्यादा चर्चित माँ की शायरी | 50+ Top Mother Shayari In Hindi 

Top Mother Shayari In Hindi यहाँ आपको सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली शायरियों की एक लिस्ट साझा कर रहे है। माँ पर लिखी यह शायरी अभी तक की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली है। आप इन्हें ट्रेंडिंग माँ शायरी भी कह सकते है। तो पढ़िए 200+ Maa Shayari की इस लिस्ट को और शेयर कीजिये – 

  1. तकिए बदले हमने बेशुमार लेकिन तकिए हमें सुलाते नहीं,
    बेखबर थे हम कि तकिए में मां की गोद को तलाशते नहीं।
  2. राहे मुश्किल थी रोकने की कोशिश बहुत की,
    लेकिन रोक न पाए क्योंकि मैं घर से मां के पैर छू निकला था।
  3. जब दवा काम नहीं आती है,
    तब माँ की दुआ काम आती है।
  4. कोई सरहद नहीं होती,
    कोई गलियारा नहीं होता,
    अगर मां की बीच होती,
    तो बंटवारा नहीं होता।
  5. मुश्किल घड़ी में ना पैसा काम आया,
    ना रिश्तेदार काम आये,
    आँख बंद की तो सिर्फ मां याद आयी।
  6. उम्र भर खाली यूं ही मकान हमने रहने दिया,
    तुम गए तो दूसरे को कभी यहां रहने ना दिया,
    मैंने कल सब चाहतों की किताबे फाड़ दी,
    सिर्फ एक कागज पर लिखा मां रहने दिया।
  7. कहीं भी चला जाऊं दिल बेचैन रहता है,
    जब घर जाता हूं तो माँ के आंचल में ही सुकून मिलता है।
  8. हर मंदिर, हर मस्जिद और हर चौखट पर माथा टेका,
    दुआ तो तब कबूल हुई जब मां के पैरों में माथा टेका।
  9. काम से घर लौट कर आया तो सपने को क्या लाए,
    बस एक मां ने पूछा बेटा कुछ खाया कि नहीं।
  10. हर गली, हर शहर, हर देश-विदेश देखा,
    लेकिन मां तेरे जैसा प्यार कहीं नहीं देखा।
  11. पैसो से सब कुछ मिलता है पर,
    माँ जैसा प्यार कही नही मिलता।
  12. कभी चाउमीन, कभी मैगी, कभी पीजा खाया लेकिन,
    जब मां के हाथ की रोटी खायी तब ही पेट भर पाया।
  13. माँ की अजमत से अच्छा जाम क्या होगा,
    माँ की खिदमत से अच्छा काम क्या होगा,
    खुदा ने रख दी हो जिस के कदमो में जन्नत,
    सोचो उसके सर का मुकाम क्या होगा।
  14. हजारो गम है जिन्दगी में,
    फिर माँ मुस्कराती है,
    तो हर गम भूल जाता हू।
  15. माँ तेरे दूध का हक मुझसे अदा क्या होगा!
    तू है नाराज ती खुश मुझसे खुदा क्या होगा!
  16. माँ खुद भूखी होती है, मुझे खिलाती है,
    खुद दुःखी होती है, मुझे चेन की नींद सुलाती है।
  17. हर झुला झूल के देखा पर,
    माँ के हाथ जैसा जादू कही नही देखा।
  18. जो सब पर कृपा करे उसे ईश्वर कहते है,
    जो ईश्वर को भी जन्म दें उसे मां कहते है।
  19. जो शिक्षा का ज्ञान दे उसे शिक्षक कहते है,
    और जो खुशियों का वरदान दे उसे मां कहते है।
  20. भटकती हुई राहों की धूल था मैं
    जब मां के चरणों को छुआ तो
    चमकता हुआ सितारा बन गया।
  21. पहाड़ो जैसे सदमे झेलती है उम्र भर लेकिन,
    बस इक औलाद के सितम से माँ टूट जाती है।
  22. मां तो वो है जो अगर खुश होकर सर पर हाथ रख दे,
    तो दुश्मन तो क्या काल भी घबरा जाए।
  23. जब नींद नहीं आती,
    तब मां की लोरी याद आती है।
  24. मां कहती नहीं लेकिन सब कुछ समझती है,
    दिल की और जुबां की दोनों भाषा समझती है।
  25. मां की दुआ को क्या नाम दूं,
    उसका हाथ हो सर पर तो मुकद्दर जाग उठता है।

100+ एक लाईन वाली माँ शायरी | 100+ Mom One Line Shayari In Hindi 

यहाँ हम 100+ से भी ज्यादा Maa Shayari In Hindi शेयर करने वाले है। यह सिर्फ एक लाइन वाली शायरी है। माँ पर लिखी यह बातें आपको काफी पसंद आएगी। आप इन माँ की शायरी को कॉपी भी कर सकते है। अपने whatsapp, फेसबुक और इन्स्टा पोस्ट पर इन्हें शेयर कर सकते है। यह रही One Liner Hindi Mom Shayari – 

 50+ माँ शायरी दो लाइन वाली | Two line Maa Shayari In Hindi 

अगर आप Two Line Mom Shayari In Hindi की खोज कर रहे है तो यह आपके लिए काफी अच्छी पोस्ट हो सकती है। यहाँ हम Two Line Mother Shayari की एक बड़ी लिस्ट आपके साथ साझा कर रहे हैं। आपको यह पसंद भी आएगी और आप इन शायरी का उपयोग अपनी पोस्ट, साइट्स इत्यादि में भी कर सकते है। 

  1. गिन लेती है दिन बगैर मेरे गुजारें है कितने,
    भला कैसे कह दूं कि माँ अनपढ़ है मेरी।
  2. बिन कहे आँखों में सब पढ़ लेती है,
    बिन कहे जो गलती माफ़ कर दे वो माँ है।
  3. बर्तन माज कर माँ चार बेटो को पाल लेती है,
    लेकिन चार बेटो से माँ को दो वक्त की रोटी नही दी जाती।
  4. खाली पड़ा था मकान मेरा,
    जब माँ घर आयी तो घर बना।
  5. उसकी डांट में भी प्यार नजर आता है,
    माँ की याद में दुआ नजर आती है।
  6. बिना हुनर के भी वो चार ओलाद पाल लेती है,
    कैसे कह दूं कि माँ अनपढ़ है मेरी।
  7. तन्हाई क्या होती उस माँ से पूछो,
    जिसका बेटा घर लोट कर नही आया।
  8. रब से करू दुआ बार-बार
    हर जन्म मिले मुझे माँ का प्यार
    खुदा कबूल करे मेरी मन्नत
    फिर से देना मुझे माँ के आंचल की जन्नत।
  9. न तेरे हिस्से आयी न मेरे हिस्से आयी,
    माँ जिसके जीवन में आयी उसने जन्नत पायी।
  10. माँ कर देती है पर गिनाती नहीं है,
    वो सह लेती है पर सुनाती नहीं है।
  11. मांगने पर जहाँ पूरी हर मन्नत होती है
    माँ के पैरों में ही तो वो जन्नत होती है
  12. गिन लेती है दिन बगैर मेरे गुजारें हैं कितने
    भला कैसे कह दूं कि माँ अनपढ़ है मेरी
  13. लबों पे उसके कभी बद्दुआ नहीं होती
    बस एक मां है जो मुझसे ख़फ़ा नहीं होती
  14. मैं रात भर जन्नत की सैर करता रहा यारों
    सुबह आँख खुली तो सर माँ के कदमों में था
  15. इस तरह मेरे गुनाहों को वो धो देती है
    माँ बहुत ग़ुस्से में होती है तो रो देती है
  16. किसी भी ​मुश्किल का अब किसी को हल नहीं मिलता
    ​शायद अब घर से कोई माँ के पैर छूकर नहीं निकलता
  17. किसी को घर मिला, किसी के हिस्से में दुकां आई
    मैं घर में सबसे छोटा था मेरे हिस्से में मां आई
  18. न जाने क्यों आज के इंसान इस बात से अनजान हैं
    छोड़ देते हैं बुढ़ापे में जिसे वो माँ तो एक वरदान है
  19. एक मुद्दत हुई मेरी मां नहीं सोई तबिश
    मैंने एक बार कहा था कि मुझे डर लगता है
  20. माँ तेरे दूध का हक़ मुझसे अदा क्या होगा
    तू है नाराज तो खुश मुझसे खुदा क्या होगा

Mothers Day Shayari In Hindi | मदर्स डे शायरी 

वैसे तो माँ के लिए हर दिन Mothers Day होता है लेकिन एक स्पेशल दिन इनके लिए भी बनाया गया है तो आज की इस पोस्ट में आपको Mothers Day Shayari भी मिल जायेगी तो चलिए पढ़िए और अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरुर करें। Mothers Day पर इससे अच्छी Shayari कोई और नहीं होगी। 

  1. ना जाने माँ क्या मिलाया करती हैं आटे में
    ये घर जैसी रोटियाँ और कहीं मिलती नहीं
  2. माँ है तो फिर सब कुछ है इस जहाँ में
    कौन कहता है यहाँ जन्नत नहीं मिलती
  3. माँ से बड़कर कोई नाम क्या होगा
    इस नाम का हमसे एहतराम क्या होगा
    जिसके पैरों के नीचे जन्नत है
    उसके सर का मक़ाम क्या होगा
  4. अभी ज़िन्दा है मां मेरी मुझे कु्छ भी नहीं होगा
    मैं जब घर से निकलता हूं दुआ भी साथ चलती है
  5. मैंने रोते हुए पोंछे थे किसी दिन आंसू
    मुद्दतों मां ने नहीं धोया दुपट्टा अपना
  6. मेरी ख़्वाहिश है कि मैं फिर से फ़रिश्ता हो जाऊं
    मां से इस तरह लिपट जाऊं कि बच्चा हो जाऊं
  7. एक मुद्दत से मिरी माँ नहीं सोई ‘ताबिश’
    मैं ने इक बार कहा था मुझे डर लगता है
  8. माँ बाप और उस्ताद सब हैं ख़ुदा की रहमत
    है रोक-टोक उन की हक़ में तुम्हारे ने’मत
  9. माँ ने लिखा है ख़त में जहाँ जाओ ख़ुश रहो
    मुझ को भले न याद करो घर न भूलना
  10. सब ने माना मरने वाला दहशत-गर्द और क़ातिल था
    माँ ने फिर भी क़ब्र पे उस की राज-दुलारा लिक्खा था

30+ माँ पर लिखी बातें | 30+ Maa Story Line In Hindi 

माँ पर लिखी गई कुछ ऐसी बातें जिन्हें हम शायरी नहीं बल्कि एक सच कह सकते है। कुछ लोग होते है जो अपनी माँ को वृद्धावस्था में छोड़ देते है उनके लिए यह कुछ Maa Story Line है जो आपको काफी परेशान कर सकती है। लेकिन यह बातें उन लोगों को जरुर पढनी चाहिए जो अपनी माँ और बाप को छोड़ देते है। अगर आपके साथ भी कोई ऐसा है जो अपनी माँ औ बाप की कदर नहीं करता है तो उनके साथ इस आर्टिकल को शेयर जरुर करें। 

(1)

“तुम एक गहरी छाव है अगर तो जिंदगी धूप है माँ
धरा पर कब कहां तुझसा कोई स्वरूप है माँ

अगर ईश्वर कहीं पर है उसे देखा कहां किसने
धरा पर तो तू ही ईश्वर का रूप है माँ, ईश्वर का कोई रुप है माँ

नई ऊंचाई सच्ची है नए आधार सच्चा है
कोई चीज ना है सच्ची ना यह संसार सच्चा है

मगर धरती से अंबर तक युगो से लोग कहते हैं
अगर सच्चा है कुछ जग में तो माँ का प्यार सच्चा है

जरा सी देर होने पर सब से पूछती माँ,
पलक झपके बिना घर का दरवाजा ताकती माँ

हर एक आहट पर उसका चौक पड़ना, फिर दुआ देना
मेरे घर लौट आने तक, बराबर जागती है माँ”

(2)

सुलाने के लिए मुझको, तो खुद ही जागती रही माँ
सहराने देर तक अक्सर, मेरे बैठी रही माँ

मेरे सपनों में परिया फूल तितली भी तभी तक थे.
मुझे आंचल में लेकर अपने लेटी रही माँ.

बड़ी छोटी रकम से घर चलाना जानती थी माँ
कमी थी बड़ी पर खुशियाँ जुटाना जानती थी माँ.

मै खुशहाली में भी रिश्तो में दुरी बना पाया.
गरीबी में भी हर रिश्ता निभाना जानती थी माँ.

निष्कर्ष  

200+ Maa Shayari In Hindi की इस पोस्ट में हमने 200 से भी ज्यादा माँ पर शायरी की लिस्ट आपके साथ साझा करी है। यह शायरी इत्यादि हमने अनेक वेबसाइट, पोस्ट एंव फेसबुक से कलेक्ट करी है। लेकिन यह टॉप माँ की शायरी है जो आपको काफी पसंद आएगी। आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा हमें जरुर बताएं।  

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *